तो Bajaj ने किया है अपने परों का विस्तार; World’s favourite Indian है Hero के ‘देश की धड़कन’ से ज्यादा दमदार

अब Bajaj करेंगे सिर्फ यूनिक प्रोडक्टस पर काम

World’s favourite Indian slogan के लाँन्च पर राजीव बजाज व NITI Aayog के CEO, अमिताभ कांत मंच साझा करते हुए

हाल ही में Axis Capital की 12वीं Annual India Conference संपन्न हुई जिसमें एक बैंकर ने एक बाइकर का शानदार इंटरव्यू लिया जहाँ ऑटोमोटिव इंडस्ट्री के बारे में मजेदार जानकारियाँ सामने आई. दरअसल Bajaj Auto के MD राजीव बजाज Axis Bank के CEO अमिताभ चौधरी से मुखातिब थे.

मार्केट में मंदी के दौर के बारे में पूछे जाने पर Mr Bajaj का जवाब समन्वयपूर्ण था. उन्होंने इसके लिये दूसरे संभावित कारण फ्यूल कीमत व इंश्योरेंस बढना व liquidity issues बताये.

मार्केट में फिर से उछाल कब आएगा? ये पूछे जाने पर Mr Bajaj ने किसी भी तरह की अटकल लगाने के बजाय adaptation पर फोकस करने का संकल्प जताया.

Power Talk: Banker Quizzes The Biker

Catch Axis Bank's Amitabh Chaudhry in a candid chat with Bajaj Auto's Rajiv Bajaj.

Posted by CNBC-TV18 on Monday, 27 May 2019

Bajaj Auto के अब तक के सफर पर प्रकाश डालते हुए उनका कहना था कि शुरू में कंपनी सिर्फ देखादेखी प्रोडक्ट्स बनाती थी पर अब कंपनी का विजन नये प्रोडक्ट्स का निर्माण है.

अब कंपनी का लक्ष्य ऐसे यूनिक प्रोडक्ट्स बनाना है जो नये सेगमेंट के सिरमौर बन सके. उन्होंने Pulsar की सफलता का उदहारण भी दिया.

Bajaj Auto की दूसरी खास स्ट्रेटेजी अपने ब्रांड को ग्लोबल बनाना है. फिलहाल 70 देशों में Bajaj Auto के प्रोडक्ट्स बिक रहे हैं. फिर उन्होंने कंपनी के हालिया स्लोगन “World’s favourite Indian” से अपेक्षा जताई कि वो सेल्स को बूस्ट करेगा.

“world’s favourite India” स्लोगन का अर्थ पूछने पर उन्होंने स्पष्टत: स्वीकार किया कि ये Hero के स्लोगन “Desh ki dharkan” से एक कदम आगे है. अगर Hero देश की धड़कन है तो Bajaj विश्वभर में भारतीय प्रोडक्ट का परचम लहराने की क्षमता रखते हैं.

Bajaj ने KTM जैसे लीडिंग ब्रांड में भी इन्वेस्ट किया है ताकि इसके ग्लोबल प्रोडक्ट पोर्टफोलियो का विस्तार हो सके. अब Bajaj का इरादा भारतीय मार्केट से आगे बढ़कर विश्वपटल पर छा जाना है.