अब बाइक चलाते समय पाइये ठंडक का अहसास; बैंगलोर के शख्स ने Helmet with portable AC किया ईजाद

इस new AC helmet में आपको वेदर कंडीशन के अनुरूप हवा मिलेगी

बैंगलोर निवासी मैकेनिकल इंजिनियर; संदीप दहिया ने हेलमेट के लिए ऐसा पोर्टेबल अटैचमेंट डिजाईन किया है जिसे ठंडी व गर्म हवा के अनुसार एडजस्ट किया जा सकता है.

इस हेलमेट अटैचमेंट को उन्होंने हिंदी में Vatanukul नाम दिया है. भारत में तापमान बहुत-से प्रकार के होते हैं. उसी को ध्यान में रखकर इसे ईजाद किया गया है.

आप यहाँ दिये गये वीडियो में इस नये गेजेट की डीटेल्स देख सकते हैं कि ये कैसे काम करता है. इसे लगाने के बाद आपके हेलमेट का वजन मात्र 125 gms बढ़ेगा. इसके बैकपैक का वजन 1800 gms है. आप नीचे इसका विस्तृत वीडियो देख सकते हैं.

यहाँ जो प्लग है वो इस यूनिट को टू वीलर के बैटरी सप्लाई यूनिट से जोड़ता है. टेम्प्रेचर को एडजस्ट करने के लिए एक कंट्रोलर है. जब इसे कूलिंग मोड पर रखा जाता है तो लाइट ब्लू हो जाती है. हीटिंग मोड में टेम्प्रेचर गिरता है. तो लाइट रेड हो जाती है. सेटिंग के अनुसार टेम्प्रेचर को आरामदायक स्थिति तक बढ़ाया जा सकता है.

ये सिस्टम 12 वोल्ट्स के DC power supply पर काम करता है. इसे किसी बाहरी एनर्जी की जरूरत नहीं है. ये वायर कनेक्शन Vatanukul से बाइक बैटरी तक है और टेम्प्रेचर को flick of the switch पर मनचाहे तरीके से कूल या हॉट किया जा सकता है.

संदीप न सिर्फ मल्टीनेशनल कंपनी के डायरेक्टर है बल्कि यूजर फ्रेंडली प्रोडक्ट्स के शौकीन भी है. इन्होंने अपने RT नगर स्थित घर के गैराज कम वर्कशॉप में इस हेलमेट को डिजाईन किया है.

पिछले साढ़े चार साल में इन्होंने 8 अलग-अलग मॉडल्स तैयार किये तब जाकर ये फाइनल प्रोडक्ट बना है. उन्हें ये बनाने की प्रेरणा तब मिली जब ये ट्रैफिक सिग्नल पर आते ही लोगों को क्षणिक राहत व घुटन से बचने के लिए हेलमेट उतारते देखते थे.

अब जब नये ट्रैफिक रूल्स के चलते हेलमेट पहनना अनिवार्य हो गया है तो कोई भी राइडर सर्दी-गर्मी का बहाना करके इसे लगाने से मना नहीं कर सकता है क्योंकि ये नये AC helmet करेंगे समस्या का समाधान.