नाम Hero काम जीरो; Karizma ने डुबाया कंपनी का नाम – Xtreme 200S तैयार है बढ़ाने को शान

नहीं चल रहा Karizma का करिश्मा

भारतीय ऑटोमोबाइल के क्रिकेट में ये घोषणा कब से कर दी गई थी कि अप्रैल 2019 से ABS or CBS अपनी इंजन क्षमता के अनुसार अनिवार्य होंगे फिर भी कुछ प्रोडक्ट्स अपने पुराने अंदाज में बैटिंग करते नजर आये. होना क्या था? जीरो पर आउट होकर पैवेलियन लौट गये. Hero Karizma भी जीरो पर हिट विकेट हो गई है.

वैसे तो 2018 में लाँन्च/ रीलाँन्च होने के बाद से ही इसकी बैटिंग कमजोर ही रही है.  मई व सितम्बर 2018 में कंपनी ने Hero Karizma की 64 यूनिट्स बेचीं. सितम्बर में मात्र 11 यूनिट्स पर सिमट गई और अक्टूबर 2018 में तो एक भी यूनिट नहीं बिकी. non-ABS होना इसमें सबसे प्रमुख कारण रहा है.

अगर आप Hero Karizma के मूल वेरियेंट की बात करें तो इसने तो गजब ढाया था. अपने सेगमेंट की अनूठी इस बाइक का लाजवाब स्वागत हुआ. Karizma ZMR अवतार में तो ये काफी प्रभावी रही.

Hero Xtreme 200S

2003 में इसे Karizma ZMR के रूप में Hero Honda ने सेल किया था. शानदार इनिंग खेलने के बाद Karizma ZMR व Karizma R 2016 में रिटायर हो गई. पिछले साल कमबैक जरूर किया पर छाप छोड़ने में असफल रही.

रीलाँन्च के समय फैंस ने शानदार चेंज की उम्मीद की थी पर 2018 Karizma ZMR के दोनों वील्स में disc brakes तो थे पर ABS नदारद था. अपने Front telescopic forks, रियर गैस-चार्ज्ड शॉक व skinny tyres के बूते ये कितना नाम कमाती?

इंजन भी वही पुराना! इसका 223cc, single cylinder इंजन मात्र 20 bhp at 8,000 rpm, व 19.7 Nm torque at 6,500 rpm डिलीवर कर रहा है. इसकी टॉप स्पीड 129 kmph.है

2018 के शुरू में तो फैंस आकृष्ट हुए जब ये 2018 Auto Expo में शोकेस की गई पर जल्द ही इससे मोहभंग हो गया. ऐसी लुटी-पिटी हालत में ये Bajaj Pulsar 220F, NS 200, RS 200, KTM Duke 200 व Yamaha FZ25 जैसे दिग्गजों का सामना कब तक करती? अब Hero लाये है Xtreme 200S.