अगर आपके पास भी है Royal Enfield Bullet, Electra तो हो जाइये सावधान

इन 7,000 यूनिट्स में बदला जायेगा defective brake caliper

Royal Enfield ने “proactive field service action” के तहत अपनी Bullet व Bullet Electra मॉडल्स की 7000 यूनिट्स के ब्रेक सिस्टम से सम्बद्ध समस्या को दूर करने की घोषणा की है. RE का इरादा faulty brake caliper bolt को रिप्लेस करने का है. पहले भी कई कम्पनियाँ कस्टमर्स को भावी परेशानी से बचाने के लिये ऐसा कर चुकी है. अगर आपका मॉडल 20 मार्च से अप्रैल 2019 के बीच में निर्मित हुआ है तो ये समाचार आपके काम का है.

retro classic bike maker ने खुलासा किया कि वेंडर द्वारा सप्लाई किया गया caliper bolt सही तरह से torque को मेंटेन नहीं कर पा रहा है. ये bolt जो कि caliper व brake hose को मेंटेन रखता है; ब्रेकिंग सिस्टम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. इस बोल्ट की गड़बड़ी से बड़ी समस्या उत्पन्न हो सकती है.

Royal Enfield डीलरशिप द्वारा प्रभावित ओनर्स से सम्पर्क करके ये रिप्लेसमेंट मुफ्त में किया जाएगा. आगे ऐसी गलती फिर से न ही; इसके लिये भी कड़े कदम उठाये जा रहे हैं.

Royal Enfield Bullet 350 व 500 Aअवतार्स में उपलब्ध है. Bullet 350 को 346 cc single-cylinder twin-spark air-cooled इंजन से पॉवर किया गया है जो 19.8 hp व 28 Nm of torque डिलीवर करने में सक्षम है. Bullet 500 में लगा है बेजोड़ 499 cc fuel-injected air-cooled single-cylinder mill जो कि 27.2 hp व 41.2 Nm of torque प्रदान करने की क्षमता रखता है. दोनों ही मॉडल्स 5-speed gearbox से लैस है.

Royal Enfield ने हाल ही में इन दोनों मॉडल्स की Trials Works Replica से रूबरू करवाया है. इसमें बेहद खूबसूरत कलर्स व additional chrome accents आपका मन मोह लेंगे. ये अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि Trials Works Replica models को भी रिप्लेस के लिये बुलाया गया है या नही

Bullet के सभी वेरियेंट्स 280 mm front disc व 2-piston calipers से लैस है. पर 350 में आपको रियर ड्रम ब्रेक सहित single-channel ABS मिलेगा. 500 sports में रियर डिस्क तो है ही साथ ही ये dual-channel यूनिट से लैस है. इसकी कीमत INR 1.87 lakhs है व Royal Enfield Bullet 350 ABS के लिये आपको INR 1.21 lakhs अदा करने होंगे.

फिलहाल Royal Enfield अपने next generation platform पर जमकर मेहनत कर रही है. आगामी सभी मॉडल्स में यही प्रयुक्त होगा. इनका लक्ष्य बेहतर प्रोडक्ट क्वालिटी व कम मेंटेनेंस है.