सावधान! Royal Enfield 350 का सेल्स ग्राफ तो गिरता ही जा रहा है

कहीं Jawa लहर ने तो नहीं छीन लिया ताज!!

सफलता के प्रतिमान गढ़ चुकी Royal Enfield एक कठिन दौर से गुजर रही है. इनकी डोमेस्टिक सेल्स तो 14 परसेंट तक की गिरावट दर्ज करवा ही चुकी है.

अगर दिसंबर 17 के आंकड़ों पर नजर डालें तो पता चलेगा कि उस समय इनकी 65,367 यूनिट्स बिकी थी जो इस साल सिमटकर 56,026 यूनिट्स ही रह गई है. नवम्बर में भी 4 परसेंट की गिरावट देखी गई थी. नवम्बर 17 में बिकने वाली 67,776 यूनिट्स नवम्बर 18 में 65,026 यूनिट्स ही रह गई.

चलिये लगे हाथ एक्सपोर्ट के हालात भी देख लें जहाँ कंपनी राहत की सांस ले सकती है. दिसम्बर 17 में बिकने वाली 1601 यूनिट्स इस साल बढ़कर 2,252 यूनिट्स हो गई है. साथ ही 41 परसेंट की वृद्धि शुभ संकेत है. Royal Enfield ने कुछ ही समय पहले 650 twins (Interceptor 650 and Continental GT) को लाँन्च किया है. अब अगर डोमेस्टिक और एक्सपोर्ट के संयुक्त आँकड़े देखे तो 13 परसेंट की गिरावट कंपनी को हताश कर देगी. दिसम्बर 17 में बिकने वाली 66,968 यूनिट्स की सुई 58,278 पर अटकना चिंताजनक तो है ही.

इस चालू वित्त वर्ष में Royal Enfield के द्वारा 615,901 यूनिट्स की बिक्री की रिपोर्ट है. पिछले साल इन्हीं 9 महीनों में 579,462 यूनिट्स बिकी थी. इस तरह 6 परसेंट की वृद्धि काबिलेतारीफ है.

Royal Enfield 350 cc segment के हालात शोचनीय है क्योंकि इसमें 15 परसेंट की गिरावट आई है. जबकि 500 cc segment (Bullet 500, Classic 500 व Himalayan) के लिए 21 percent growth गौरव की बात है.

कई विशेषज्ञ इस गिरावट के पीछे Jawa का हाथ मानते है. जिस बाइक की अभी डिलीवरी मिलना भी चालू नहीं हुई उसने इस प्रतिष्ठित कंपनी की चूले हिलाकर रख दी है. अब कारण जो भी रहा हो Royal Enfield को दंगल में टिके रहने के लिए जल्द ही कोई समाधान ढूंढना होगा.