Suzuki Baleno, Celerio हुई UK से आउट; डिमांड में कमी है नो डाउट

Baleno व Celerio है भारत निर्मित पर UK में नहीं बना सकी कस्टमर बेस

Suzuki अपने UK व्हीकल लाइनअप में सुधार के लिए आमादा है जिसके तहत Celerio व Baleno अगस्त 2019 के अंत तक वहां के मार्केट से नदारद हो जायेगी. वेबसाइट पर भले ही ये व्हीकल्स नजर आ रहे हो पर कोई नई अनरजिस्टर्ड कार आपको वेबसाइट पर नजर नहीं आयेगी. केवल ex-demonstrator (demo) कार्स ही बेचीं जायेगी.

Suzuki अपने बेस्ट सेलिंग UK मॉडल्स पर ही रीफोकस कर रही है. इस श्रेणी में – Ignis, Swift, S-Cross व Vitara शामिल है.

Suzuki 2020 के एमिशन रेगुलेशन्स के मद्देनजर व्हीकल रेंज को तैयार कर रहे हैं. बहुत जल्द हमें इसकी डीटेल्स पता चल जायेगी. Celerio 2015 में और Baleno 2016 में लाँन्च हुई थी और इनकी सेल्स काफी उम्दा रही थी. हालाँकि यूरोप में इनका जादू जोरदार नहीं चला.

UK में दूसरी Suzuki कार्स के मुकाबले Baleno व Celerio की सेल्स काफी लो रही. 2018 में Suzuki Baleno की सेल्स 15k रही. Celerio की सेल्स 21k थी. Ignis की सेल्स इनसे दुगुनी थी.

UK में बिकने वाली Baleno Suzuki Motor India द्वारा निर्मित है. इसका प्लांट गुजरात के निकट मेहसाना में स्थित है. इसी प्लांट पर ये मेंयुफेक्चर होती है. भारत के Suzuki plant पर मेन्युफेक्चर हुई Baleno न सिर्फ भारत व UK में बल्कि विश्व के 100 देशों में बिकती है.

भारत में जहाँ जुलाई 2019 में Baleno की 10,482 यूनिट्स बिकी वहीँ कुछ महीने ऐसे भी रहे जब इसका सेल्स आंकड़ा 20k mark तक पहुंचा. पिछले साल इसकी प्रतिमाह 18k यूनिट्स बिकी.

भारत में Maruti Suzuki Celerio की सेल्स अब प्रतिमाह 5k तक गिरने लगी है. एक साल पहले तक जहाँ इसकी 7k यूनिट्स बिकती थी. Suzuki UK के नक्शेकदम पर Maruti Suzuki India कतई नहीं चलेंगे अर्थात इसे डिसकंटीन्यू नहीं करेंगे.

ऐसा नहीं है कि UK में Baleno व Celerio के पाँव ही उखड़े है. भारत में निर्मित Ford Figo को भी कुछ समय पहले यूरोप में डिसकंटीन्यू किया गया.